You are currently viewing छत्तीसगढ़ी संज्ञा || Chhattisgarhi Sangya || Chhattisgarh Noun
छत्तीसगढ़ी संज्ञा

छत्तीसगढ़ी संज्ञा || Chhattisgarhi Sangya || Chhattisgarh Noun

छत्तीसगढ़ी संज्ञा || Chhattisgarhi Sangya
किसी प्राणी, वस्तु, स्थान, जाति , धर्म , भाव आदि के नाम संज्ञा कहलाते हैं। छत्तीसगढ़ में हिंदी भाषा के अनुरूप की संज्ञा शब्द का उपयोग होता है।
उदाहरणकेरा ( केला ) , आमा ( आम ) , अक्छर (अक्षर), आदा ( अदरक) , उपास (उपवास), कका ( चाचा ) , घेंच ( गर्दन ) , झोरा ( झोला ) , डबरा ( पानी का गड्ढा) , बाला ( कान का गहना ) , दाई ( मां ) नरवा ( नाला ) , माची ( छोटी खाट ) , लुगरा ( साड़ी ) , होरी ( होली )

छत्तीसगढ़ी संज्ञा (Chhattisgarhi Sangya)के प्रकार

हिंदी भाषा के अनुसार ही छत्तीसगढ़ी भाषा में संज्ञा को पांच प्रकार में बांटा जा सकता है –
1. व्यक्तिवाचक संज्ञा –
     • जिस शब्द से किसी एक व्यक्ति, स्थान , वस्तु आदि के नाम व्यक्तिवाचक संज्ञा कहलाते हैं।
           व्यक्तियों के नाम    –        बुधराम, फेकन , दुकालू , विशाल
           स्थानों के नाम        –       बेलासपुर , राईपुर , दुरुग, भेलाई , गोल बाजार , शनिचरी
            दिशा के नाम        –       उत्ती ( पूर्व ) , बुड़ती ( पश्चिम ) , रक्सहु ( दक्षिण ) , भंडार ( उत्तर )
       नंदी , पर्वतों के नाम     –      अरपा , शिवनाथ , मैकल , सिहावा , महानदी
          त्योहारों के नाम        –      होरी , देवारी , हरेली
         दिन , महीनों के नाम  –     सम्मार, बिरसपत , सनिच्चर , चइत , बइसाख
        पुस्तक , पत्र , पत्रिकाएं  –     रमायन , नवभारत , गीता, गमकत गीत

2 . जातिवाचक संज्ञा –
       • वे संज्ञा शब्द जिससे किसी एक ही प्रकार की वस्तुओं या प्राणियों का बोध होता है उसे जातिवाचक संज्ञा कहते हैं।
             जैसे – बइला , रुख , मछरी , परेवा , छेरी , मुसवा , नदिया , टुरा , टुरी ।

3 . भाववाचक संज्ञा –
      • जिस शब्द से व्यक्ति या वस्तु के गुणधर्म , भाव का बोध हो उसे भाववाचक संज्ञा कहते हैं ।
            जैसे – सियानी , मितानी , कल्लई , पियास ।

4 . द्रव्यवाचक संज्ञा –
      • जिससे द्रव्य पदार्थ का बोध हो उसे द्रव्यवाचक संज्ञा कहते हैं |
         जैसे – धान , गेहु , तिवरा , होरा , सोन , तेल , चांउर , दार ,

5 . समूहवाचक संज्ञा –
       • वे संज्ञा शब्द जिससे समूह का बोध होता है है उसे समूहवाचक संज्ञा कहते हैं।
           जैसे – झोत्था , बरात , कोरी (बीस का समुह ) , बरदी ( मवेशी का समुह )


10+ छत्तीसगढ़ी कहानी | cg kahani | chhattisgarhi kahani

Top 5+छत्तीसगढ़ी कहानी | cg kahani | cg story


छत्तीसगढ़ी संज्ञा निर्माण

छत्तीसगढ़ी संज्ञा
छत्तीसगढ़ी संज्ञा

   •संज्ञा शब्दों का निर्माण निम्नलिखित प्रत्यय लगाकर भी होता है –
• आ                        –    बोल-बोलैया , गिजर – गिजरा ( हंसने वाला )
• हा                         –     बिलासपुर-बिलासपुरिया
•  ई, इया , ली , वा      –    लुगरा-लुगरी , ठेंकवा-ठेंकली , लोटा-लोटिया
• वाला , वाली             –    घरवाला , घरवाली , गाडीवाला
•  हार, हारिन, हारनिन –   बनि-बनिहार/बनिहारी , हाट-हटहार
•  ई                          –  जुआन-जुआनी , नदान-नदानी
•  दार                       –  जमीन-जमीनदार , जवाब-जवाबदार
•  कार                      –   गोठकार , गीतकार
•  वार                      –    रखवार , लगवार

भाववाचक संज्ञा निर्माण –

अई , आई , आस , पा , पन , प्रत्यय लगाकर विशेषण से भाववाचक संज्ञा बनाया जाता है –
 

  • अई, आई          –       चतुर – चतुराई , मुरुख – मूरुखाई
     
  • आस , आसी      –        मीठ – मिठास , करु – करूआई
     
  • पा बुढ़ा            –         बुढ़ापा
     
  • पन अम्मट       –       अम्मटपन , बड़ा – बड़पन

छत्तीसगढ़ी वर्णमाला स्वर व्यंजन | Chhattisgarhi Bhasha Swar Yyanjan

Chhattisgarhi Rajbhsha Aayog Kya Hai || छत्तीसगढ़ी राजभाषा आयोग

Fruit Names In Chhattisgarhi || छत्तीसगढ़ी भाषा में फलो के नाम

Chhattisgarhi Me Pakshiyo Ke Naam |पक्षियों के नाम-छत्तीसगढ़ी शब्दावली

पशुओं के नाम छत्तीसगढ़ी भाषा में || Pashuo Ke Nam Chhattisgarhi Bhasha Me

Vegetable Names In Chhattisgarhi || छत्तीसगढ़ी में सब्जियों के नाम

Chhattisgarhi Me Sharir Ke Angon Ke Naam|छत्तीसगढ़ी अंगों के नाम

Chhattisgarhi Rishte Naate Ke Naam Hindi/ENGLISH

Top – 2 छत्तीसगढ़ी कहानी


 


इन्हे भी पढ़े – 

परिपक्वता का संबंध है || maturity is concerned

स्मार्टनेस किताबो से नहीं आती || Smartness Doesn’t Come Through Books

What Is Emotional Intelligence || भावनात्मक बुद्धिमत्ता क्या है

मदद की कहानी | दूसरों की मदद करने पर कहानी

Self Motivate – How to Stay Motivated All Time


क्या आप सक्सेस होना चाहते है 

छोटे से शहर से IAS बनने के पहले का Struggle की Story – निशांत जैन

फूलबासन बाई यादव का जीवन परिचय | Success Story Phoolbasan Bai Yadav

Transgender success story || केंद्रीय राष्ट्रीय सलाहकार कहानी 

इंटरनेट से पैसे जुटाकर स्कुल बनाने वाले राहुल दुबे GOLDMEDLIST SUCCESS STORY

Bajaj स्कूटर को बनाने वाले Rahul Bajaj की कहानी

NAINITAL MOMOS से लाखो कमाने वाले Ranjit Singh Ki Struggle Story  

कैसे बना एक एवरेज स्टूटेंड UPSC टॉपर ? || IAS ki motivational story in hindi

सफल Businessman Motivational Story In Hindi

IAS Officer Motivational Story In Hindi || IAS Motivational Story

छोटे से गांव से लाखो कमाने वाले Harsh Rajput Ki Success Story

Success Businessman Story In Hindi सड़क से करोडो तक

यूट्यूब से लाखो कमाने वाले Manoj Dey Ki Struggle Story  


छत्तीसगढ़ी संज्ञा || Chhattisgarhi Sangya || Chhattisgarh Noun || छत्तीसगढ़ी संज्ञा के निर्माण || Chhattisgarhi Sangya Ke Prakar 

Leave a Reply