23 Top Picnic Spot Bilaspur| Bilaspur Ghumne Ki Jagah

Rate this post

हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का हमारे इस ब्लॉक पोस्ट में. दोस्तों यदि आप अभी छत्तीसगढ़ आए हुए हैं या फिर छत्तीसगढ़ के निवासी हैं या अक्षत लड़की किसी भी जिले में निवास करते हैं और बिलासपुर घूमने के लिए आना चाहते हैं तो आपको बिलासपुर में ऐसे कौन कौन से जगह है जहां घूमने की सोच रहे हैं. लेकिन आप उनके बारे में नहीं जानते हैं. और आप Bilaspur Ghumne Ki Jagah ढूंढना चाहते हैं तो आज की इस ब्लॉग पोस्ट के माध्यम से आपको यह सारी जानकारी यानी कि पिकनिक स्पॉट नियर बिलासपुर छत्तीसगढ़ में दिया जाएगा.

दोस्तों बिलासपुर में घूमने की जगह के बारे में मैंने कई घंटों के रिसर्च किया है. इसके बाद ही मैं इस पोस्ट को लिख रहा हूं. मेरी इस पोस्ट को लिखने में मैंने कई दोस्तों का सहारा लिया है जो कई बार बिलासपुर के उस जगह पर गए हैं जहां से वह भ्रमण करके आए हुए हैं. तो यह पोस्ट कुल मिलाकर एक्सपीरियंस और नॉलेज और रिसर्च के साथ-साथ घूमने लायक जगहों के बारे में आपको पूरी सटीक जानकारी दी जाएगी.

आप इस पोस्ट को पढ़ने के बाद में आपको किसी अन्य पोस्ट में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी इतना गंभीर रूप से इस पोस्ट में जानकारी दी है जो आपको जरूर पसंद आएगी। तो चलिए बिना किसी देरी के इस पोस्ट में आगे बढ़ते हैं और जानते हैं Bilaspur Ghumne Ki Jagah कौन-कौन सी है :-

Bilaspur Ghumne Ki Jagah | Picnic Spot Near Bilaspur Chhattisgarh

बिलासपुर, छत्तीसगढ़ और उसके आसपास के पिकनिक स्थलों के बारे में अधिक जानकारी इस प्रकार है:

चित्रकोट जलप्रपात: ये जलप्रपात बिलासपुर से लगभग 50 किमी की दूरी पर स्थित हैं। वे इंद्रावती नदी द्वारा बनाई गई हैं और अपनी सुंदर, घोड़े की नाल के आकार की उपस्थिति के लिए जानी जाती हैं। झरने हरे-भरे जंगलों से घिरे हैं और पिकनिक और दर्शनीय स्थलों की यात्रा के लिए एक लोकप्रिय स्थान हैं। वे अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए प्रसिद्ध हैं और इस क्षेत्र के सबसे लोकप्रिय पर्यटक आकर्षणों में से एक हैं। फॉल्स की अन्य सुविधाओं में Restrooms फूड स्टॉल और स्मारिका की दुकानें शामिल हैं।

कुदरगढ़ बांध: यह बांध बिलासपुर से करीब 25 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह अरपा नदी के पार बनाया गया था और इसका उपयोग सिंचाई और पनबिजली उत्पादन के लिए किया जाता है। बांध खूबसूरत बगीचों से घिरा हुआ है और Bilaspur Ghumne Ki Jagah और दर्शनीय स्थलों की यात्रा के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। यह अपनी सुरम्य सेटिंग के लिए प्रसिद्ध है और फोटोग्राफी के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। बांध पर अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका दुकानें शामिल हैं।

सिरपुर झील: यह झील बिलासपुर से लगभग 75 किमी दूर सिरपुर शहर में स्थित है। यह एक मानव निर्मित झील है जिसे महानदी नदी पर एक बांध के निर्माण से बनाया गया था। झील सुंदर बगीचों से घिरी हुई है और Bilaspur Picnic Spot और नौका विहार के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। यह अपनी शांतिपूर्ण सेटिंग के लिए प्रसिद्ध है और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। झील की अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका की दुकानें शामिल हैं।

अचानकमार वन्यजीव अभयारण्य: यह अभयारण्य बिलासपुर से लगभग 100 किमी दूर अमरकंटक शहर में स्थित है। यह लगभग 551 वर्ग किमी के क्षेत्र में फैला हुआ है और बाघों, तेंदुओं और हिरणों सहित विभिन्न प्रकार के वन्यजीवों का घर है। अभयारण्य सुंदर जंगलों से घिरा हुआ है और प्रकृति प्रेमियों और Picnic Spot Near Bilaspur Chhattisgarh के लिए एक लोकप्रिय गंतव्य है। यह अपनी समृद्ध जैव विविधता के लिए प्रसिद्ध है और वन्य जीवन को देखने के लिए एक बेहतरीन जगह है। अभयारण्य में अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका दुकानें शामिल हैं।

रतनपुर मंदिर: यह मंदिर बिलासपुर से लगभग 85 किमी दूर रतनपुर शहर में स्थित है। यह हिंदू भगवान शिव को समर्पित है और अपनी सुंदर वास्तुकला के लिए जाना जाता है। मंदिर सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है और पिकनिक और दर्शनीय स्थलों की यात्रा के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। यह अपने धार्मिक महत्व के लिए प्रसिद्ध है और हिंदुओं के लिए एक लोकप्रिय पूजा स्थल है। मंदिर की अन्य सुविधाओं में शौचालय और खाने के स्टॉल शामिल हैं।

छत्तीसगढ़ विज्ञान केंद्र: बिलासपुर से लगभग 110 किमी दूर रायपुर शहर में स्थित, यह विज्ञान केंद्र परिवारों के लिए एक लोकप्रिय आकर्षण है और अपने इंटरैक्टिव प्रदर्शनियों और शैक्षिक कार्यक्रमों के लिए जाना जाता है। केंद्र में एक बड़ा बगीचा है जो Picnic Spot Near Bilaspur Chhattisgarh और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। केंद्र की अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका की दुकानें शामिल हैं।

Malhar Garh Fort:यह प्राचीन किला बिलासपुर से लगभग 45 किमी दूर मल्हार शहर में स्थित है। यह एक लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण है और अपनी सुंदर वास्तुकला और ऐतिहासिक महत्व के लिए जाना जाता है। किले में एक बड़ा बगीचा है जो पिकनिक और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। किले की अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका की दुकानें शामिल हैं।

Ghagar Burj Tower:यह टावर बिलासपुर से लगभग 40 किमी दूर घाघर शहर में स्थित है। यह एक लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण है और आसपास के क्षेत्र के मनोरम दृश्य प्रस्तुत करता है। टॉवर सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है जो Picnic Spot Near Bilaspur Chhattisgarh और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। टॉवर पर अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका की दुकानें शामिल हैं।

कुदरगढ़ बांध: यह बांध बिलासपुर से लगभग 25 किमी दूर स्थित है और पिकनिक और दर्शनीय स्थलों की यात्रा के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। बांध सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है जो Bilaspur Picnic Spot और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। बांध पर अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका दुकानें शामिल हैं।

श्री साई नाथ हॉट स्प्रिंग्स: ये हॉट स्प्रिंग्स बिलासपुर से लगभग 75 किमी दूर जांजगीर-चांपा शहर में स्थित हैं। वे अपने चिकित्सीय गुणों के लिए जाने जाते हैं और एक लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण हैं। गर्म झरने सुंदर बगीचों से घिरे हुए हैं जो Bilaspur Ghumne Ki Jagah और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान हैं। हॉट स्प्रिंग्स की अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका की दुकानें शामिल हैं।

Padma Naidu Himalayan Zoological Park:पद्मा नायडू हिमालयन जूलॉजिकल पार्क: बिलासपुर से लगभग 100 किमी दूर दार्जेंग शहर में स्थित, यह चिड़ियाघर कई प्रकार के जानवरों का घर है, जिनमें लाल पांडा, हिम तेंदुए और तिब्बती भेड़िये शामिल हैं। चिड़ियाघर में एक बड़ा बगीचा है जो Bilaspur Picnic Spotऔर विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। चिड़ियाघर में अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका की दुकानें शामिल हैं।

Maitri Bagh Zoo मैत्री बाग चिड़ियाघर: यह छोटा चिड़ियाघर बिलासपुर में स्थित है और बाघ, शेर और भालू सहित विभिन्न प्रकार के जानवरों का घर है। चिड़ियाघर में एक बड़ा बगीचा है जो पिकनिक और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। चिड़ियाघर में अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका की दुकानें शामिल हैं।

रतनवाड़ी मंदिर: यह मंदिर बिलासपुर से लगभग 85 किमी दूर रतनवाड़ी शहर में स्थित है। यह हिंदुओं के लिए एक लोकप्रिय पूजा स्थल है और अपनी सुंदर वास्तुकला के लिए जाना जाता है। मंदिर सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है जो Bilaspur Ghumne Ki Jagah और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। मंदिर की अन्य सुविधाओं में शौचालय और खाने के स्टॉल शामिल हैं।

कोनी मंदिर: यह मंदिर बिलासपुर से लगभग 35 किमी दूर कोनी शहर में स्थित है। यह हिंदू भगवान शिव को समर्पित है और अपनी सुंदर वास्तुकला के लिए जाना जाता है। मंदिर सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है जो Bilaspur Picnic Spot और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। मंदिर की अन्य सुविधाओं में शौचालय और खाने के स्टॉल शामिल हैं।

सीतानदी वन्यजीव अभयारण्य: यह अभयारण्य बिलासपुर से लगभग 75 किमी दूर जांजगीर-चांपा शहर में स्थित है। यह लगभग 345 वर्ग किमी के क्षेत्र में फैला हुआ है और बाघों, तेंदुओं और हिरणों सहित विभिन्न प्रकार के वन्यजीवों का घर है। अभयारण्य सुंदर जंगलों से घिरा हुआ है और प्रकृति प्रेमियों और Picnic Spot Near Bilaspur Chhattisgarh के लिए एक लोकप्रिय गंतव्य है। अभयारण्य में अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका दुकानें शामिल हैं।

गुरुद्वारा साहिब: यह गुरुद्वारा बिलासपुर से लगभग 110 किमी दूर रायपुर शहर में स्थित है। यह सिखों के लिए एक लोकप्रिय पूजा स्थल है और अपनी सुंदर वास्तुकला के लिए जाना जाता है। गुरुद्वारे में एक बड़ा बगीचा है जो Bilaspur Picnic Spot और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। गुरुद्वारे में अन्य सुविधाओं में Restrooms, फूड स्टॉल और स्मारिका की दुकानें शामिल हैं।

राजिम मंदिर: यह मंदिर बिलासपुर से लगभग 95 किमी दूर राजिम शहर में स्थित है। यह हिंदू भगवान शिव को समर्पित है और अपनी सुंदर वास्तुकला के लिए जाना जाता है। मंदिर सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है जो पिकनिक और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। मंदिर की अन्य सुविधाओं में शौचालय और खाने के स्टॉल शामिल हैं।

बम्बलेश्वरी मंदिर: यह मंदिर बिलासपुर से लगभग 80 किमी दूर डोंगरगढ़ शहर में स्थित है। यह हिंदू देवी बम्बलेश्वरी को समर्पित है और अपनी सुंदर वास्तुकला के लिए जाना जाता है। मंदिर सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है जो Bilaspur Ghumne Ki Jagah और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। मंदिर की अन्य सुविधाओं में शौचालय और खाने के स्टॉल शामिल हैं।

मां दंतेश्वरी मंदिर: यह मंदिर बिलासपुर से लगभग 135 किमी दूर दंतेवाड़ा शहर में स्थित है। यह हिंदू देवी दंतेश्वरी को समर्पित है और हिंदुओं के लिए एक लोकप्रिय पूजा स्थल है। मंदिर सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है जो तस्वीर के लिए एक लोकप्रिय स्थान है

महामाया मंदिर: यह मंदिर बिलासपुर से लगभग 85 किमी दूर रतनपुर शहर में स्थित है। यह हिंदू देवी महामाया को समर्पित है और अपनी सुंदर वास्तुकला के लिए जाना जाता है। मंदिर सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है जो Picnic Spot Near Bilaspur Chhattisgarh और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। मंदिर की अन्य सुविधाओं में शौचालय और खाने के स्टॉल शामिल हैं।

व्यास गुफा मंदिर: यह प्राचीन गुफा मंदिर बिलासपुर से लगभग 75 किमी दूर सिरपुर शहर में स्थित है। यह हिंदू ऋषि व्यास को समर्पित है और एक लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण है। मंदिर सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है जो Bilaspur Ghumne Ki Jagah और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। मंदिर की अन्य सुविधाओं में शौचालय और खाने के स्टॉल शामिल हैं।

सिरपुर मंदिर: यह प्राचीन मंदिर बिलासपुर से लगभग 75 किमी दूर सिरपुर शहर में स्थित है। यह एक लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण है और अपनी सुंदर वास्तुकला और ऐतिहासिक महत्व के लिए जाना जाता है। मंदिर सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है जो पिकनिक और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। मंदिर की अन्य सुविधाओं में शौचालय और खाने के स्टॉल शामिल हैं।

अमरकंटक मंदिर: यह मंदिर बिलासपुर से लगभग 100 किमी दूर अमरकंटक शहर में स्थित है। यह हिंदू भगवान शिव को समर्पित है और अपनी सुंदर वास्तुकला के लिए जाना जाता है। मंदिर सुंदर बगीचों से घिरा हुआ है जो पिकनिक और विश्राम के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। मंदिर की अन्य सुविधाओं में शौचालय और खाने के स्टॉल शामिल हैं।

Bilaspur Ghumne Ki Jagah
Bilaspur Ghumne Ki Jagah

FAQ ANSWER

बिलासपुर का पुराना नाम क्या है?

बिलासपुर, छत्तीसगढ़ का पुराना नाम है ‘बिलासपुर फ़ैशून’ (Bilaspur Faizabad)। इस नाम से इसे संबंधित किया जाता है कि ये पुराने समय में उत्तर प्रदेश के फ़ैजाबाद का संगठन हुआ करता था। हालांकि, वर्तमान में ये छत्तीसगढ़ का एक महानगर है।

बिलासपुर कितना बड़ा है?| Bilaspur Ghumne Ki Jagah

बिलासपुर, छत्तीसगढ़ एक महानगर है। इसकी जनसंख्या लगभग 4,50,000 से अधिक है। ये छत्तीसगढ़ का सबसे बड़ा महानगर है और इसकी कुल क्षेत्रफल लगभग 126 वर्ग किलोमीटर है। बिलासपुर छत्तीसगढ़ का एक महत्वपूर्ण व्यापार और वित्तीय केंद्र है जिसमें अधिकांश मुख्यालयों और व्यापारी संगठन हैं।

Leave a Reply