You are currently viewing सोते समय Kis Disha Me Sir Karke Sona Chahiye
neend na aane ka karan

सोते समय Kis Disha Me Sir Karke Sona Chahiye

त्तर की ओर क्यों सिर नहीं रखना चाहिए . मान लेते हैं आपको पता है कि पृथ्वी में उत्तरी ध्रुव है और एक दक्षिणी ध्रुव है यानी एक चुंबकीय केंद्र है. यह भी जानते हैं कि धरती के पूरे भूखंड ऑल कॉन्टिनेंट्स पूरे महाद्वीप धीरे-धीरे उत्तर की ओर खींचा करें सब जानते हैं भू विज्ञान से आप कम से कम यह तो जानते ही हैं कि सारे भूखंड के चक रहे हैं ।

हिमालय की पर्वत श्रेणियां कैसे बनी हिमालय पर्वत आपको मानसरोवर में समुद्र के सीपिया मिलेंगे क्योंकि किसी वक्त उधर के लेवल पर थी यह 15600 फुट की ऊंचाई पर है . तो यह झील वहां कैसे पहुंचे  . एक समय यह समुद्र के लेवल पर थी और आज वहां पहुंच गई है क्योंकि असल में पूरा भारतीय उपमहाद्वीप सेंट्रल एशियन प्लेट से टकरा रहा है और इसी वजह से हिमालय के पहाड़ भी ऊंचे होते जा रहे हैं ,

 Kis Disha Me Sir Karke Sona Chahiye

यह बस उठते जा रहे हैं एक टकराव के कारण । आपने कारो का ढेर लगना देखा है बस वैसे ही .

भारत भी टकरा रहा है भारत हर साल 1.23 सेंटीमीटर छोटा हो रहा है . मिझे सही आंकड़ा नहीं पता लेकिन यह लगभग उस रेंज में हर साल भारत 1.23 सेंटीमीटर का इलाका खो रहा है .  हिमालय सिंगला से टकरा रहा है और वहां पर ढेर लग रहे हैं क्योंकि ध्रुव कर चुंबकीय आकर्षण धीरे-धीरे सारे भूखंडों को ऊपर खींच रहा है

तो इतना विशाल चुंबकीय आकर्षण जिससे महाद्वीप ऊपर कैसा करें उस तरह का चुंबकीय खिचाव लगातार पूरे ग्लोब में कायम है . मान लीजिए आपको थोड़ा अनेमिया है अगर आप डॉक्टर के पास जाते हैं तो वह आपके लिए क्या सलाह करेंगे .

तो इसका मतलब खून का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है तो अगर आपके शरीर में आयन तैर रहा है और मैं आपके सिर पर एक शक्तिशाली चुंबक लगा दू तो हो सकता है की खून उस दिशा में जाने लगे . मान लीजिए यह चुंबक बहुत ही शक्तिशाली है तो यह उनको धीरे-धीरे ऊपर खींचने लगेगा क्योंकि खून में आयरन मौजूद है ,

आपके शरीर की संरचना ऐसी है कि आपका दिल जो सर्क्युलेशन सिस्टम का  पंपिंग स्टेशन है वह तीन-चौथाई ऊपर की ओर है जो बीत चुकी गुरुत्वाकर्षण की उलटी दिशा में पंप करना मुश्किल है .

और गुरुत्वाकर्षण के दिशा में पणम करना आसान है तो यहां है . आमतौर पर जो भी खून की नसें नीचे की ओर जा रही हैं वह मोटी हैं ऊपर की ओर आ रही हैं वह काफी पतली है सर तक पहुंचते-पहुंचते वह लगभग बाल की तरह पतली हो जाती हैं . इतनी बारीक कि आपके मस्तिष्क का सरकुलेशन सिस्टम ऐसा है उसमें एक भी बूंद ज्यादा चली गई तो ब्रेन हेमरेज हो जाएगा स्ट्रोक हो जाता है ।  लोग को स्ट्रोक हो जाता है .

 उत्तर KIS  Sisha Me Sir Karke Sona Chahiye नुकसान

 Kis Disha Me Sir Karke Sona Chahiye
Kis Disha Me Sir Karke Sona Chahiye

तो अभी आप इस तरह हैं अब आप ऐसे हो गए सिस्टम में थोड़ा सा संतुलन है क्योंकि दिल गुरुत्वाकर्षण के प्रतिरोध को ध्यान में रखकर पंप कर रहा था अब अचानक गुरुत्वाकर्षण का प्रतिरोध नहीं रहा आप इस तरह हो गए हैं आप अपना सर उत्तर की ओर कर लेते हैं धीरे-धीरे खून आपके मस्तिष्क की ओर खींचता है चीज जो आपके साथ हो सकती है वह यह कि आपको अच्छी नींद ना आए .

अगर आप अपना सर उत्तर की तरफ करके सोते खराब हो सकती है सकते हैं  हर कसिम के सपने आ सकते है . अगर आपकी उम्र ज्यादा है तो हो सकता है कि आपको स्ट्रोक हो जाए नींद में मर सकते है ।

ऐसा बिल्कुल संभव है एक दिन सोए तो आप मर जाएंगे . हर रोज हर रोज हर रोज अगर आप का विस्तार उसी तरह लगा हुआ है कि आप अपना सिर उत्तर की ओर रखते हैं आप मुसीबत को बुलावा दे रहे हैं किसी न किसी तरह की समस्या हम नहीं जानते कि किस तरह की समस्या वह आपके सिस्टम की मजबूती पर निर्भर करता है अगर बहुत कमजोर है तो आप मर सकते हैं यह आपको स्ट्रोक आ सकता है नींद शांत हो सकती है या बुरे सपने आते क्या दिन के दौरान आप आ जी भर कर दे करेंगे तमाम चीजें होंगी क्योंकि मस्तिष्क में अधिक सरकुलेशन हो रहा है जब इसे नहीं होना चाहिए .

क्योंकि सोते समय आप उत्तर की ओर रखा . तो अगर आप दक्षिणी अमेरिका जाते हैं दक्षिण की ओर नहीं करना चाहिए । अगर आप ऑस्ट्रेलिया जाते हैं तो आपको अपना सिर दक्षिण की ओर नहीं करना चाहिए वहां पर आपसे उत्तर की दिशा में रख सकते हैं उत्तरी गोलार्ध में आप अपना सिर उत्तर की ओर मत कीजिए . आप एक सुई की तरह गोल घूम सकते हैं पूर्व सबसे अच्छा है उत्तर पूर्व सीखें पश्चिम भी ठीक है दक्षिण कोई और चारा ना हो तो आप सो सकते है और उत्तर दिशा में कभी नहीं सोना (kis disha me sir karke sona chahiye) चाहिए ।

Leave a Reply