You are currently viewing Rj kartik wikipedia | rj kartik salary
rj kartik wikipedia

Rj kartik wikipedia | rj kartik salary

  • Post author:
  • Post category:Success Story
  • Post comments:0 Comments
  • Reading time:4 mins read
  • Post last modified:November 26, 2022

|| किसी ने बड़ी कमाल की बात कही कि मंजिले उन्हें नहीं मिलती जिनके ख्वाब बड़े होते हैं
बल्कि मंजिले उन्हें मिलती है जो जिद पर अड़े होते हैं ||

ये स्टोरी है आप सभी के चहेते और हम सब के फेवरेट स्टार RJ kartik की जादुई आवाज के बुलंदियों का सफर । आज की ब्लॉग पोस्ट के माध्यम से हम RJ Kartik wikipidia , RJ kartik Biography , Rj KartiK salary , RJ Kartik success story , RJ kartik family , RJ Kartik biography in hindi , इन सभी के बारे में इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको उसके struggle Story और उनके rj बनने के सफर को जानने वाले वाले ,

और आज कोशिश कर रहा हूं अपनी RJ Kartik की कहानी सुनाने की कैसे जगह तक पहुंच पायावह किस प्रकार से एक सफल RJ के रूप में motivation कर रहे तो चलिए शुरू करते है –

Rj kartik wikipedia

जैसे की आप सभी को पता ही है आरजे कार्तिक (RJ Kartik wikipidia) सोमवार को सुबह 9:30 बजे आपको कहानियां सुनाता है . सोशल मीडिया पर इंस्टाग्राम , facebook , youtube , pintrest पर आप लोगों का प्यार लगातार मिलता रहा है .

राजस्थान के झालावाड़ जिले के भवानी मंडी का रहने वाला है । उनका जन्म राजस्थान के झालावाड़ जिले के भवानी मंडी में जन्म 22 दिसंबर 1990 को हुआ था ।

आरजे कार्तिक का जीवन परिचय। Rj kartik age, family, education

नाम

Rj kartik

व्यवसाय RJ रेडियो होस्ट, YouTuber, कहानी कार, इन्फ्लुएंसर
जन्म तिथि22 दिसंबर 1990
शिक्षाग्रेजुएशन
जन्म स्थानराजस्थान के झालावाड़ जिले के भवानी मंडी, भारत
आयु32 वर्ष
धर्महिंदू
राष्ट्रीयताभारतीय
Height5’9″ फिट

 

RJ कार्तिक का जन्म एवं शिक्षा | Rj Kartik Birth and Education

राजस्थान के झालावाड़ जिले के भवानी मंडी जंहा उन्होंने  जिंदगी के शुरुआती 18 साल अपने पिता जी के साथ में गुजरे . उनके पिता जी कहा करते थे जब वह सिक्स क्लास में थे बेटा बड़ा होकर के लाल बत्ती वाली वाली गाड़ी में घूमना ।  और उन्हें पहली बार उनके पिता जी ने बड़ा सपना देखना क्या होता है उसे सिखाया . अब तो लाल बत्ती वाली गाड़ी का सिस्टम चला गया ।

वह आठवीं तक हिंदी मीडियम वाले स्कूल में पढाई की और 8 वी के बाद में इंग्लिश मीडियम में पढाई की । 8वी में उन्होंने 93 % लाये हुए थे . हिंदी मीडियम से इंग्लिश मीडियम में आते हैं उनके लिए समझना बहुत इंपोर्टेंट है वह बहुत अच्छे समझेंगे कि कितना मुश्किल होता है । हिंदी मीडीएम से अचानक से इंग्लिश मिडयम में आ गए उनके लीय सब कुछ बदल जाता है ।  गजपहाड नवोदय जवाहर स्कूल में पढाई की ।

9th में उन्होंने हिंदी से इंग्लिश में आने के कारन से उन्हें बहुत ही दिक्क्त हुई और वह 62 % तक लाय ।

Life Changing Moment

और वहां पर उनके साथ में एक सीनियर मिले जिनका नाम था बजरंग वह बड़ा मोटिवेटेड बंदा था . जो अपने नाम के आगे बाज लिखता था और उस उस उनके सीनियर ने उन्होंने उनके अंदर वह आग की दाल दी Motivation की . अपने इस सीनियर के बात को सुनकर के उन्हें लगा की जिंदगी में कुछ अलग करना है .

इसके बाद में कड़ी मेहनत और लगन के बाद में उन्होंने 10 वी में 80% मार्क्स ले आये । आगे जैसे की हर बच्चों के साथ हिंदुस्तान में होता है साइंस ले लेंगे केमिस्ट्री में 11th क्लास में केमिस्ट्री में फेल हो गया । उसके बाद एक महीने के एग्जाम के बाद में वह फिर से पास हो गया ।

इसके बाद में उन्होंने 12 वी बह पास कर लिया था , यह वह दौर था जब हिन्दुस्थान में एक दौर था जब हिंदुस्तान में न्यूज़ चैनल प्राइवेटाइजेशन हुआ था और प्राइवेट न्यूज़ चैनल की मांग बड़ी थी ।

12 वी के बाद ग्रेजुएशन करने के लिए जयपुर से 100 किलोमीटर की दुरी में सीकर में BBA में ग्रेजुएशन पूरी की ।

Rj कार्तिक का वैवाहिक जीवन। Rj kartik wife

Rj कार्तिक शादीशुदा जीवन व्यतीत कर रहे हैं। उन्होंने अश्वनी व्यास से शादी की है।

 

आरजे कार्तिक का परिवार। Rj kartik Family

Rj kartik का जन्म एक मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ था लेकिन उनके परिवार के बारे में कोई जानकारी एकत्रितnahi किया गया है ।

पिता का नाम  – जानकारी नहीं है .
माता का नाम  – जानकारी नहीं है .
भाई बहन का नाम  – जानकारी नहीं है .

हालांकि की राजिस्थान में उनके पुरे परिवार एक साथ रहते है ।


rj kartik story in hindi writte

Rj Kartik Story In English (Story No 1)

Rj Kartik Quotes || Rj Kartik Best Quotes


 Rj Kartik Struggle career || Rj Kartik करियर की शुरुआत

उन्हें जिंदगी में पहली टर्निंग पॉइंट उनके पिता जी ने दिखाया था जिंदगी में सपना देखना है तो कुछ बड़ा सपना देखो । उसके बाद में  उनके सीनियर के motivation से मिला था की जिंदगी में कुछ बड़ा करना है ।

Radio K Saath Judaav

जब वह वह अपने नानी के यंहा जाया करते थे तब उनके नाना जी news पेपर के हेडिंग को पढ़कर के सुनाने के लिए कहते थे तब से उन्हें मिडिया में जाने और कुछ नया करने की सोचते है पहली बार उनके मन में उठा था । यह उस समय का दौर था जब भारत में रेडिओ चैनल के प्राइवेट होने वाले थे ।

और पहली बार उन्हें मिडिया में कुछ नया करने के लिए सोचा । उसके बाद में उन्होंने मीडिआ में करियर बनाने के लिए 12 वी के बाद में इंदौर में देवलिया विश्वविद्यालय में एड्मिसन की कोशिश की वंहा के एंट्रेस एग्जाम के लिए अप्लाई किया लेकिन एंट्रेस एग्जाम के रिजल्ट आने में देर हो गई ।

इसके बाद में उन्होंने सीकर में BBA की पढाई करने के लिए एड्मिसन लिया जो जयपुर 100 किलोमीटर की दुरी में है ।

उस समय 100 रूपये की रेडिओ आता था जिन्हे उन्होंने ख़रीदा था और उन्होंने पहली बार किसी RJ को रेडिओ में सुना था सिद्दू को सुना था और उनको सुनने के बाद में लगा की यह तो वह भी कर सकता है । और ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद में उन्हें अपने गोल समझ में आया की जिंदगी में करना क्या है । उनका गोल था रिडीओ JOCY बनाना था । और उस RJ ने उन्हें प्रभावित किया की उनसे मिलने की लिए ललक जाग उठी .

वे बतलाते है की उनसे मिलने के लिए सीकर से जयपुर आ गए थे । वे बतलाते है जब वह उस rj से मिला था वह उनके जिंदगी के सबसे यादगार पल था . जब वह पहली बार उनसे मिले थे तो उनके हाथ कांप रहे थे । इसके बाद में उन्होंने उनसे मिलते रहे , उनसे RJ कैसे बनते है , RJ बनने के लिए क्या करना चाहिए इन सभी के बारे में जानकारी लेने लगे थे ।

इसके बाद में उन्होंने कालेज से परमिसन लेकर के ये मन में ठान कर की  RJ बनाना है , यही सोचकर से वे सीकर से जयपुर में आकर से रहने लगे थे । इसके बाद में उन्होंने कई सारे रेडिओ स्टेसन , रेडिओ ऑफिस में जाकर के रिज्यूम , cv आदि देते रहे लेकिन गार्ड साहब उनके रिज्यूम को लेते थे और उनके जाने के बाद में कबाड़ में डाल देते थे ।

तीन-चार महीने इंटर्नशिप अप्लाई कर रहा था लेकिन 3-4 महीने बाद में इंटरशिप के करने का मौका मिला । तब उन्हें समझ में आया की जिंदगी में स्ट्रगल क्या है । जब उन्हें इंटर्नशिप करने का मौका मिला तो वह शुबह रूम से निकलते थे 7 बजे और पैदल चलकर के जाते थे जो रूम से 4 किलो मीटर की दुरी में स्थित था पर शाम से समय वापस आ जाते थे 10 से 11 घंटे की इंटर्नशिप होती थी । ये करैत करते उनके हालत ख़राब हो गई थी ।

वे बतलाते है जब वे इंटर्नशिप कर रहे थे तो उन्हें कुछ समझ में नहीं आ रहा था की जिंदगी में हो क्या रहा है लेकिन अंदर से आव्वज आ रहा था की की करना है तो रेडिओ jaky करना है ।

और आप सभी लोगो को तो पता है की रेडिओ में एक ऑफिस होताहै जंहा आपकी आवाज को रिकार्ड किया जाता था । वे कहते है जब वह वंहा जाते थे तो उन्हें दूर से ही देखकर कह देते थे की वंही रुक जाओ और यह कहकर के उन्हें वंही रोक देते थे ।

उनके पहली पबार एडवर्टाइस करने का मौका मिला वह जिंदगी में पहली बार उन्हें बोलना था क्या ?

वह अपने शब्द को सुनने के लिए रेडिओ में सुनता रहा की उनकी आवाज कब आएगी लेकिन उनकी आवाज आई ही नहीं । इसके बाद में उन्हें दूसरी बार रेडिओ में कुछ ऐसा ही करने का मौका मीका जो बाद में रेडिओ में आया इसे सुनकर के वह बहुत ही ज्यादा खुशु थे । और उन्हें मन तो तसल्ली भी मिल गई थी क्योंकि फाइनली उनकी आवाज तो आई रेडिओ में ।

ये सब चल रहा था 7 से 8 महीने हो गए थे Rj kartik wikipedia को इंटर्नशिप करते हुए । उन्हें इन महीनो में पैसे कुछ नहीं मिल रहे थे ।

वेकहते है अपने पिता जी हमेशा कहते थी जो करना है जिंदगी में वह कर । ये बात नहीं है की उनके पिता जी उन्हें पैसे नहीं देते है बल्कि उनके पिता जी हमेशा समय में पैसा दे देते थे , लेकिन कुछ कारन वस् पैसा नहीं था उनके पास में क्योंकि उस समय ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर का कोई जमाना नहीं था , उस समय RJ कार्तिक के पास में केवल 5 रूपये थे जेब में ।

वह उस 5 रूपये को लेकर के 5 रूपये का बिस्किट लिए और दूसरी दिन भी वही हालत हो गए थे , और उन्होंने इस बीच में 100 रुपया उधर लिए हुए थे , और ये 100 रुपया बहुत ही ज्यादा कीमती था क्योंकि ये 100 रुपया उस समय बहोत था क्यंकि उस समय उसके पास में कुछ भी नहीं था ।

वे बतलाते है जब शाम हुआ तो उन्ही पैसो के साथ में वह घर के लिए निकला गया और रेलवे के प्लेटफ्रॉम में जाने के बाद में वंही बैठ गए और अचानक से उनके आँखों से आँशु निकलने लगे थे , RJ कार्तिक बतलाते है यह वह लम्हा था जब वह या तो फिर उन्हें मंज़िल की तरफ जाना है या फिर उसी रस्ते में वापस आ जाना जंहा से शुरू किया था शून्य में ।

जब बिछ में रहेंगे तो कमल की बात होती है जब आप चलते रहेंगे तो मंज़िल तक पहुंच जायेंगे लेकिन आप पीछे आ जायेंगे तो जीरो तक पहुंच जायेंगे ।

तो इस बीच में Rj kartik wikipedia अपनी नानी के एक बात यद् आ गई उनकी नानी कहती थी की कुछ तो कर यु ही मत मर || ये बात को सोचकर के जिंदगी में कुछ तो करना है करके और नई एनर्जी के साथ में वंहा से वापस आ गए ।

और वापस आने के बाद में यह सिलसिला जारी रहा और जिंदगी पहले जैसे चलने लगी और उन interview हुए उसके बाद में उनकी पहली जॉब कोटा में लगी । जंहा उन्हें ब्रेक फ़ास्ट शो करने का मौका मिला । जब वह सोचा करते थे की कब उन्हें good Morning कहने का मौका मिलेगा वह मौका मिला । 1 सितम्बर 2010 की थी ।

यंहा से उनका सफलता का सफर शुरू हुआ । इसके बाद में MY FM में आय जनाः वह वह जयपुर में redio jocky है । 2017 में पहली बार Motivational कहानिया की शुरुआत की थी जो  शुरआत में उन्हें कोई देखता भी नहीं था । जब वह 2017 में विडिओ यूट्यूब में अपलोड कर रहे थे तो शुरू ने व्यू नहीं मिल रहे थे लेकिन 2017 अगस्त में 2017 अक्टूबर में कहानिया अच्छी चली और इस विडिओ वायरल होने के बाद में जो पुराने विडिओस थे उनमे लाखो के व्यू आने लगे थे ।

इस प्रकार से उन्होंने अपने जिंदगी में कई सारे उतार चढ़ाव के बाद में एक सफल Rj kartik wikipedia बना ।


BEST TOP 5 RJ Kartik Story Lyrics In Hindi

किसान की समस्या || एक गरीब किसान की कहानी


आरजे कार्तिक को मिले पुरस्कार एवं उपलब्धियां | Rj kartik Awards and Achievements

Rj kartik wikipedia लंबे समय से आरजे के तौर पर शानदार काम कर रहे हैं। वह अपनी कहानी से लोगों को काफी motivate , prena दे रहे है । उनके इस बेहतरीन कार्य , सराहनीय  कार्य के लिए उन्हें कई बार सर्वश्रेष्ठ रेडियो कार्यक्रम के लिए IRF अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है। और आज उन्हें लोग एक सफल RJ के रूप में देखते है और सैकड़ो लोगो को motivate कर रहे है ।

आरजे कार्तिक सैलरी || rj kartik salary per month

आरजे कार्तिक सैलरी || rj kartik salary per month लाखो रुपया यूट्यूब से कमा रहे है और इसके आलावा redio से अनुमान से 50 से 80 हजार रुपये इसके आलावा सोशल मिडिया से भी वह कुछ पैसे कमा रहे है ।

Leave a Reply