Subah Ke Vichar | आत्मा को तृप्त कर देगी यह BEST 51 बातें

चेहरा दिख जाता है जिस पर लोगों की नजर होती है। पर दिल साफ नहीं रखता जिस पर परमात्मा की नजर होती है। आज मैं ऐसे कौन सी कपड़े पहनो जिससे मैं अच्छा देखूं यह तो हम हर रोज सोचते हैं । पर आज मै कोई अच्छा कर्म करू जिससे परमात्मा को अच्छा लगु , ये कोई नहीं सोचता ।

subah ke vichar ||आत्मा को तृप्त कर देगी यह बातें || कुछ सच्ची और अनमोल बातें

एक बार एक व्यक्ति ने एक संत से पूछा – हम ईश्वर के आगे सर क्यों झुकाते हैं ?

तो संत ने उस व्यक्ति को बहुत सुंदर उत्तर दिया- हमारी सारी चिंताएं हमारी मस्तिष्क में निवास करती है , और जब हम ईश्वर के आगे सर झुका कर प्रणाम करते हैं। तो वहां चिंताएं हमारे मस्तिष्क से निकलकर ईश्वर के चरणों में पहुंच जाती है और हम चिंताओं के बोझ से मुक्त हो जाते हैं।

अपनी अंतरात्मा को कभी मरने मत देना और अपनी अहंकार को कभी साथ चलने मत देना क्योंकि जब भी हम कुछ गलत करने की सोचते हैं तो हमारी अंतरात्मा हमें जरूर चेतावनी देती है लेकिन हमारा अहंकार उसे सुनने नहीं देता इसलिए अहंकार का त्याग करें ।

सुख और दुख दोनों ही जीवन के हिस्से हैं दोनों ही इंतिहान है हमारे । इम्तिहान है अहम् का और दुःख का इम्तिहान है हमारे सब्र का । हर परिस्थिति में तटस्थ रहिए , ईश्वर के शुक्रगुजार रहिए । हमेशा उन्हें धन्यवाद दीजिए हे ईश्वर जो कुछ आपने दिया , जो आपने नहीं दिया और जो कुछ आपने करके ले लिया उस हर बात के लिए आपका धन्यवाद ।

जो आपने दिया वह आपकी कृपा है , जो कुछ आपने नहीं दिया उसमें हमारी भलाई है और जो आपने देख कर के ले लिया वह हमारा इम्तिहान हैं ।

जीवन में सब अच्छा ही हो ऐसा कभी होता ही नहीं । अच्छा बुरा दोनों मिलकर जीवन बनता है। अच्छे बुरे दोनों तरह के लोग जीवन में आते हैं । सब का धन्यवाद करते चलिए । धन्यवाद उन लोगों का जो मुझसे नफरत करते हैं , क्योंकि उन्होंने मुझे मजबूत बनाया । धन्यवाद उन लोगों का जो मुझे प्यार करते हैं , क्योंकि उन लोगों ने मेरा दिल बड़ा किया । धन्यवाद उन लोगों का जो मेरे लिए परेशान हुए और उन्होंने मुझे बताया कि वह मेरा कितना ख्याल रखते हैं । धन्यवाद उन लोगों का जिन्होंने मुझे अपना बना कर छोड़ दिया और यह एहसास दिलाया कि दुनिया में हर चीज आखरी नहीं होती ।

धन्यवाद उन लोगों का जो जिंदगी में शामिल हुए और मुझे ऐसा बना दिया जैसे मैंने कभी सोचा भी ना था । और सबसे ज्यादा धन्यवाद मेरे परमात्मा का जिसने मुझे हालात का सामना करने की हिम्मत जी । हे मेरे ईश्वर अगर आपका कुछ तोड़ने का मन करे तो मेरा गुरूर तोड़ देना। अगर आपका जलाने का मन करे तो मेरा क्रोध जला देना । अगर आपका कुछ बुझाने का मन करे तो मेरे घृणा बुझा देना । अगर आपका मारने का मन करे तो मेरी इच्छाएं मार देना । अगर आपका प्यार करने का मन करे तो मेरी और देख लेना ।

मैं शब्द तुम अर्थ तुम बिन माय व्यर्थ ।

काबू में रखें – प्रार्थना के वक्त अपने दिल को , काबू में रखें खाना खाते वक्त अपने पेट को। काबू में रखें किसी के घर जाने पर अपनी आंखों पर। काबू में रखें महफिल में जाने पर अपनी जुबान को । काबू में रखें पराया धन देखकर अपनी लालच को ।

भूल जाए अपनी नेकिया को , भूल जाए दूसरों की गलतियां को भूल जाएं अतीत के कड़वे संस्मरण को । छोड़ दे दूसरों को नीचा दिखाना ।छोड़ दे दूसरों की सफलता । छोड़ दे दूसरों की धन की चाह रखना। छोड़ दे दूसरों की चुगली करना । छोड़ दे दूसरों की सफलता पर दुखी होना ।

फिर देखना जीवन कितना आनंदमय हो जाएगा , सबका ख्याल रखना ।।

सुनने से ही ज्ञान के सभी द्वार खुल जाते हैं , मन में जो अंधकार हैं सुनने से ही मिट जाते हैं, मन में शांति एक आनंद की अनुभूति होती है, जिस किसी की भी सोच है और जिसने अपना अंदाज दिया है भगवान आपको ऐसी अच्छी-अच्छी सोच दे जिससे लोगों का भला हो ।


सच्ची और अनमोल बातें । मन को शांति देने वाली बातें

Best Acchi Aur Sacchi Baatein || अच्छी और सच्ची बातें

RJ Kartik Ki Kahani || Rj Kartik New Story

BEST 10 Gautam Buddha Ki Shikshaprad Kahani


subah ke vichar ||आत्मा को तृप्त कर देगी यह बातें || कुछ सच्ची और अनमोल बातें || subah ka suvichar  || good morning achi baatein || सुप्रभात अभिवादन || मंगलमय सुप्रभात संदेश

Leave a Reply