You are currently viewing what happens to a gold loan if the borrower dies in india
what happens to a gold loan if the borrower dies in india

what happens to a gold loan if the borrower dies in india

अब सवाल उठता है की यदि what happens to a gold loan if the borrower dies in india || गोल्ड लोन लेने वाला व्यक्ति मर जाए तो क्या करे या फिर गोल्ड लोन लेने वाले की मौत के बाद किसे मिलेगा सोना आज की इस पोस्ट के माद्यम से हम इस भी प्रश्नो के बारे में डिटेल के साथ में जानने वाल है ।

 गोल्ड लोन क्या है ? 


गोल्ड लोन 
के बारे में आप सभी लोगो को पता ही होगा यदि नहीं जानते है गोल्ड लोन के बारे में तो गोल्ड लोन का मतलब यह होता है की जब भी हमें पैसे की जरुरत होती है तो हम उधर या ब्याज में पैसे के लिए हम बैंक में जाते है जंहा हमें कुछ फार्मेल्टी को पूरा करने के बाद में हमें बैंक से ब्याज के दर में लोन दे दिया जाता है ।

ठीक इसी तरह से ही Gold Loan होता है गोल्ड लोन में हम अपनी सोना को बैंक के पास में जमा रखते है बदले में बैंक हमें उसे गिरवी रखकर के ब्याज में हमें पैसे देते है यही कहलाता है GOLD LOAN . गोल्ड लोन लेने के बाद में एक निश्चित अमाउंट को प्रतिमाह लिए गए रकम के बदले में ब्याज जमा करना होता है ।

गोल्ड लोन लेने वाला व्यक्ति मर जाए तो क्या करे
यदि किसी के घर , परिवार में , या रिस्तेदार में किसी व्यक्ति ने गोल्ड के बदले में यदि बैंक से लोन ले रखा है और अचानक से या फिर किसी कारण से उस व्यक्ति की death हो जाती है तब हमें क्या करना चाहिए ?

यदि किसी gold Loan लेने वाले व्यक्ति की Death हो जाती तब इस कंडीसन में कुछ बातो को ध्यान में रखना चाहिए । यदि आपके परिवार में किसी की डेथ हो जाती है तो जो पेमेंट है उसे रेगुलर रूप से बैंक में जमा करना चाहिए मतलब ये की की जो उसने बैंक से gold loan लिया था उसका ब्याज और बकाया राशि को बैंक में प्रतिमाह जमा करते रहना चाहिए ।

यदि आप किसी कारण से या फिर किसी परेशानी से या जानबूझकर के यदि आप पेमेंट रेगुलर ( प्रतिमाह ) जमा नहीं करते है तो बैंक आपकी गोल्ड को नीलाम कर देगा जिससे की आपकी लिए बहुत ही ज्यादा Problem खड़ी हो जाएगी ।

पहला स्टेप यही होना चाहिए की आपका जो पेमंट अकाउंट है वह बैंक में रेगुलर , प्रतिमाह होना चाहिए ।

यदि आपका Gold loan का NP हो गया तो बैंक दस दिन के भीतर उसे ऑप्शन कर देगी ।

गोल्ड लोन क्लेम की प्रोसेस (_what happens to a gold loan if the borrower dies in india_)

what happens to a gold loan if the borrower dies in india
what happens to a gold loan if the borrower dies in india

इसके सम्बन्ध में RBI और IBI ने किसी भी प्रकार के कोई गाइडलाइन क्लियर नहीं की है । सामान्य रूप से जो लीगल प्रोसेस के तहत गोल्ड लोन मिलना चाहिए । यदि उसने कोई बिल छोड़ के गया है उसके अनुसार उसे मिल सकता है । यदि कोर्ट में सक्सेसन सर्टिफिकेट के लिए जाए तो ये एक लम्बी और खर्चीली प्रोसेस होगी ।

इससे अच्छा है की आप लिए गए बैंक में जाइये और वंहा के BANK मैनेजर से संपर्क करे या बाते करे और उन्हें अपनी स्थिति के बारे में उन्हें बताये की Gold Loan जितनी भी बचत राशि है उसे हम पे कर सकते है और गोल्ड हमें दे देंगे ये सभी बातो को कन्वेन्स करे उन्हें यकीन दिलाये की हम बची हुई राशि को जमा कर देंगे ।

यदि यह लीगल है तो बैंक के मैनेजर आपको है कहेंगे और उसके बाद में आप बची हुई राशि को जमा कर के Gold को ले जा सकते है ।

यदि आप कोर्ट में सक्सेसन सर्टिफिकेट के लिए जाते है तो यह एक लम्बी प्रोसेस होगी और टेढ़ी भी होगी जिससे बार बार आपको कोर्ट का चक्कर काटना पढ़ सकता है ।

यदि आप क्लेम की प्रोसेस करेंगे तो Gold Loan में नामनि नहीं होता है ।

यदि आप बिना नामानि के गोल्ड को लेना चाहते है तो आपको ये लंबा प्रोसेस लगेगा .

तो इस सभी से बेहतर है की (what happens to a gold loan if the borrower dies in india ) आप Branch Manager से जाकर के बात करे और उसी से गोल्ड लोन वापसी की बात करे ।

उम्मीद करते है दोस्तों यह पोस्ट (what happens to a gold loan if the borrower dies in india /who will get gold after gold loan barrower)आपको जरूर पसंद आया होगा यदि यह पोस्ट आपको पसंद , समझ में आया होगा तो आप इसे अपने दोस्तों के पास में ज्यादा से ज्यादा मात्रा में शेयर कर दीजियेगा । धन्यवाद्


बिना ब्रांच जाए लोन कैसे बंद कराये

Branch से Fixed Deposit कैसे स्थानांतरित करें

Joint Bank Account Kaise Band Kare || ज्वाइंट अकाउंट कैसे बंद करें


 

Leave a Reply